Thursday, March 29, 2018

क्या शॉटगन बीजेपी छोड़ने जा रहे हैं ?

अखिलेश अखिल 
अपनी बुलंद आवाज से सबको आकर्षित करने वाले शत्रुघ्न सिन्हा बीजेपी से काफी नाराज चल रहे हैं। वे लगातार बीजेपी सरकार और पीएम मोदी पर भी हमला करने से चूक नहीं आते। बीजेपी भी शत्रुघ्न को किसी कार्यक्रम में नहीं बुलाती और नाही कोई तरजीह देती है। पिछले दिनों शत्रुघ्न सिन्हा लालू प्रसाद से मिलने रांची अस्पताल भी गए थे। वहाँ से लौटे तो दिल्ली में विपक्षी एकता बनाने में जुटी ममता बनर्जी से भी उनकी लम्बी मुलाक़ात हुयी। शॉटगन में ममता की काफी   प्रशंसा भी की। बता दे कि वर्तमान में शत्रुघ्न सिन्हा पटना साहिब से बीजेपी के सांसद हैं। शत्रुघ्न सिन्हा ने संकेत दिया कि वो 2019 लोकसभा चुनाव से पहले से पार्टी छोड़ सकते हैं। मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक बिहार के पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा किसी दूसरी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि वो पटना साहिब सीट से ही चुनाव लड़ेंगे, जहां से वो इस समय सांसद हैं।

           शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि अगले चुनाव में अगर मुझे निर्दलीय उम्मीदवार के तौर भी लडऩा पड़े तो मुझे फर्क नहीं पड़ता है। आगे उन्होंने कहा, पिछले लोकसभा चुनाव (2014) में भी इस तरह की अफवाह थी कि मुझे बीजेपी से टिकट नहीं मिलेगा, लेकिन मुझे टिकट मिल गया। बिल्कुल अंतिम समय में मेरे नाम की घोषणा की गई। जब उनसे पूछा गया कि क्या उनके साथ पार्टी में खराब बर्ताव हुआ है तो उन्होंने हां में उत्तर दिया। इस तरह की बातें तब सामने आ रही हैं जब भाजपा के असंतुष्ट नेता यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की। उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार के खिलाफ सभी क्षेत्रीय ताकतों को एकजुट करने के प्रयास को लेकर ममता की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि सिन्हा ने कहा कि मुझे कई पार्टियों से ऑफर आ रहे हैं। जहां मैं पार्टी के अंदर रहते हुए अपने क्षेत्र के लिए बेहतर काम कर पाऊंगा। 
         आपको बतां दे कि इससे पहले भाजपा के असंतुष्ट नेता यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से  मुलाकात की। उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार के खिलाफ सभी क्षेत्रीय ताकतों को एकजुट करने के प्रयास करने के लिए ममता की प्रशंसा की। ममता ने अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे अरूण शौरी से भी मुलाकात की। तृणमूल सुप्रीमो विभिन्न विपक्षी दलों और सत्तारूढ़ भाजपा के कुछ सहयोगी दलों के नेताओं से मुलाकात कर रही हैं। ममता से मुलाकात के बाद मोदी सरकार के आलोचक शौरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुकाबले करने के लिए ममता ने सही राह पकड़ी है। उनकी योजना हर राज्य में भाजपा के हर प्रत्याशी के खिलाफ एक प्रत्याशी खड़ा करने की है।

No comments:

Post a Comment